रात को शंभू साव और सुशीला देवी ही घर पर थे। बेटा भी शादी में गया था और घर के सभी सदस्य बाहर थे। शंभू साव एक जमीन बेचना चाहता था। लेकिन पत्नी सुशीला इसके लिए तैयार नहीं थी। वह पति का विरोध करती थी।



Source link